फोटो प्रदर्शनी लगाकर आबूरोड के दरबार स्कूल में नेहरू चाचा को याद किया

आबूरोड । देश के पहले प्रधानमंत्री माननीय पण्डित जवाहर लाल नेहरू के जन्म दिवस पर नगरपालिका, आबूरोड द्वारा जिला स्तरीज प्रदशनी का आयोजन राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, आबूरोड (दरबार स्कूल) में किया गया। आबू नगर सुधार न्यास के सचिव कुशन कोठारी द्वारा नेहरू के स्मरण सुनाकर एक धनवान बेरिस्टर के बेटे होने के बावजुद भी स्वाधिनता की राह चुनी, जिसमें जेल भी जाना पडा। जो कि देशभर में नेहरू की अमिट मिशाल है। आबूरोड के अधिशाषी अधिकारी  त्रिकमदान चारण ने बताया की नेहरू के काल में ही आधुनिक भारत के नव निर्माण व राजस्थान में प्रथम बार पंचायती राज विभाग की स्थापना 02 अक्टुबर 1953 को राजस्थान के नागौर में हुई और चाचा नेहरू त्रिवेणी (बच्चे, जैकेट व गुलाब) से प्रेम करते थे। जिसकी आज की प्रदर्शनी में झलक दिखाई देती है।  
       आबूरोड तहसीलदार दिनेश आचार्य द्वारा ने बताया की चाचा नेहरू आशावादी एवं उच्चकोटी के लेखक थे। साथ ही चाचा नेहरू के जीवन एवं संघर्ष पर भाषण, निबन्ध प्रतियोगिता के माध्यम से विद्यार्थियों को अवगत कराया। जबकि प्रधानाचार्य सतीश राजपुरोहित ने भी सम्बोधित किया , साथ ही चाचा नहेरू के जीवन शैली पर आधारित फोटो प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस मौके पर  प्लास्टिक मुक्त अभियान के तहत कपडे के थेलों का वितरण किया गया।  इस प्रदर्शनी में विद्यालय स्टाफगण एवं विधार्थी के साथ प्रवीण सिंह, अर्जुन बामणिया, दिलीप, अमित, लक्ष्मण सिंह, किशोर उपस्थित थें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
%d bloggers like this: