कैथोलिक गिरीजाघर में ख्रीस्त राजा का पर्व मनाया गया

आबूरोड़। आबूरोड़ के निकट रिको कोलोनी स्थित कैथोलिक गिरीजाघर हाॅली क्रोस में प्रभु ईशु ख्रीस्त राजा का पर्व ईसाई श्रद्धालुओं द्वारा धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर अजमेर धर्म प्रान्त के धर्माध्यक्ष डाॅ. पायस थाॅमस डिसुजा के मुख्य अतिथि में आयोजित हुआ। इस अवसर पर हाॅली क्रोस गिरीजाघर के फादर जोली के सानिध्य में सम्पूर्ण कार्यक्रमो के आयोजन में फालना के फादर जेकब, एमसीबीएस सुपिरियर फादर सीबी, मा0 आबू के फादर जेकी, फादर सेमसंग, सिरोही फादर रोबिन, फादर जोश, आबूरोड़ के फादर जोनी, भीनमाल के फादर वीनु, शिवगंज के फादर सानु व फादर टोनी, फादर सीबी, फादर जोनी, फादर जीपसीन के सानिध्य में आराधना व प्रार्थना और शोभायात्रा आयोजित हुई। कैथोलिक गिरीजाघर के प्रवक्ता रन्जी स्मिथ के अनुसार फादर जोली एवं आबूरोड़ सिस्टर एवं श्रद्धालुओं ने धर्माध्यक्ष डाॅ. पायस थाॅमस का पुष्पगुच्छ से स्वागत किया। धर्माध्यक्ष डाॅ. पायस थाॅमस ने प्रभु ईशु ख्रीस्त राजा के पर्व के उपलक्ष पर गिरीजाघर में आराधना प्रारम्भ की। आराधना के पश्चात् गिरीजाघर के प्रवेश द्वार से शोभायात्रा निकली जिसमें आबूरोड़ के करोल ग्रुप द्वारा रोजरी माला एवं भक्ति गीतो की शमा बांधते हुए शोभायात्रा रिको क्षैत्र के कोलोनीयों में से ईसाई श्रद्धालुओं द्वारा पुष्प बरसात करते हुए प्रभु ईशु की जयघोष करते हुए शोभायात्रा गिरीजाघर परिसर पर पहुॅची। शोभायात्रा के पश्चात् आबूरोड़ गिरीजाघर के फादर जोली के सानिध्य में धर्माध्यक्ष एवं अन्य फादरगण द्वारा दीप प्रज्जवलित किया गया। दीप प्रज्जवलन के दौरान प्रवेश द्वार पर पुष्पा वर्षा की गई। पुष्प वर्षा के साथ ही श्रद्धालुओं ने प्रभु ईशु की जयघोष के साथ धर्माध्यक्ष ने गिरीजाघर में प्रवेश कर प्रार्थना कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। प्रार्थना कार्यक्रम में धर्माध्यक्ष डाॅ. पायस थाॅमस ने श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए कहां कि आज का दिन हमारे लिए एक विशेष दिन है। इस दिन प्रभु ईशु हमारे मार्गदर्शक के रूप में इस पृथ्वी पर आये एवं हमें प्रेम भाईचारा एवं त्याग के मार्ग पर चलने का संदेश दिया। उन्होने कहां कि जिस प्रकार गडेरीया अपने मालिक के बताये हुए रास्ते पर चलते हैं उसी प्रकार हम भी अपने अच्छे कर्मो के माध्यम से दूसरे के लिए एक अच्छे मार्गदर्शक बन सकते है एवं संगठन के रूप में संगठित होकर हम दूसरो की भलाई के लिए कार्य कर सकते है और यही हमारी मानवता है।
प्रार्थना के पश्चात् पुरोहितहाई ग्रहण करने के पश्चात् 25 वर्ष पूर्ण होने पर फादर जोली एवं अन्य फादरगणो की ओर से फादर जेकी फादरो का स्वागत किया गया। इस बीच ईसाई श्रद्धालुओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के पश्चात् आबूरोड़ गिरीजाघर के फादर जोली ने सभी का आभार व्यक्त किया।
स्वर लहरी गीतो की धूम में श्रद्धालुओं ने किया ख्रीस्त राजा का जय जयकार
आबूरोड़ के कैथोलिक गिरीजाघर हाॅली क्रोस कैथोलिक चर्च में ख्रीस्त राजा के पर्व पर आबूरोड़ के करोल ग्रुप द्वारा स्वर लहरी संगीतो के माध्यम से भक्ति गीतो की धुम के बीच श्रद्धालुओं ने किया ख्रीस्त राजा का जय जयकार। करोल ग्रुप में एक से एक बढकर भक्ति गीत प्रस्तुत किये। भक्ति गीत में आराधना आराधना अखिलेश्वर तेरी आराधना……., ओ प्यारे भगवान आशिष देना, ओ प्यारे भगवान….., आवाज उठायेंगें, हम साज बजाएगें……, राजाओं का राजा येसु अल्लेलूया……, गान करो जय गान करो……., इस महान संसार को दंडवत बारम्बार हो….. झट जब जागूॅं पहले शब्द मैं उच्चारूं, ख्रीस्त राजा की जय जयकार… के साथ सुन्दर भक्ति गीत प्रस्तुत किये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
%d bloggers like this: